Ticker

6/recent/ticker-posts

Ad Code

Responsive Advertisement

चौरी-चौरा शताब्दी वर्षा पर शहीदों को नमन करते हुए बनाया जाएगा विश्व रिकॉर्ड

चौरी चौरा शताब्दी वर्ष के आयोजन से यूपी में आगरा वाराणसी के बाद गोरखपुर में बढ़ेगी पर्यटकों की संख्या युवाओं को मिलेगा रोजगार



गोरखपुर के चौरी चौरा में यूपी सरकार ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पहल पर चौरी चौरा जनांदोलन कारियों की याद में 4 फरवरी से शताब्दी वर्ष मनाने का एलान किया है.जिससे चौरी चौरा में नए रोजगार सृजन के साथ साथ पूरे गोरखपुर में पर्यटन को बढ़ावा मिल रहा है.


मुख्यमंत्री और राज्यपाल के स्वागत की हो रही तैयारी 
4 फरवरी से चौरी चौरा जन आंदोलन कारियों की याद में यूपी सरकार ने शताब्दी वर्ष मनाने का ऐलान किया है. जिसमें यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और महामहिम राज्यपाल बतौर मुख्य अतिथि प्रतिभाग करेंगे .इसके अलावा देश के प्रधानमंत्री इस कार्यक्रम में सीधे वर्चुअल जुड़ेंगे. शहीद स्मारक चौरी चौरा में होने वाले आयोजनों के मद्देनजर स्थानीय विधायक संगीता यादव और जिले के आला अधिकारी कमिश्नर जयंत नार्लीकर जिलाधिकारी के विजयेंद्र पांडियन मुख्य विकास अधिकारी एसएसपी/डीआईजी जोगिंदर कुमार सिंह लगातार निरीक्षण कर हो रही तैयारियों का जायजा ले रहे हैं .शहीद स्मारक की दीवारों पर चौरी चौरा जन आंदोलन कारियों के तस्वीरों को उकेरा जा रहा है. संग्रहालय में लगी मूर्तियों को दुबारा सुदृढ़ और डेंटिंग पेंटिंग की जा रही है. रेलवे स्टेशन और शहीद स्मारक के बीच बहुत बड़े मंच को तैयार किया जा रहा है. चौरी चौरा के सभी सड़कों नालियों और सरकारी आवासों दफ्तरों की साफ सफाई की जा रही है .चौरी चौरा में जिस तरह से तैयारी चल रही है जैसे प्रतीत हो रहा है दिवाली आ गई है.

रोजगार और पर्यटन के क्षेत्र में बढ़ी उम्मीद
चौरीचौरा में 4 फरवरी 1922 की ऐतिहासिक घटना की शताब्दी वर्ष मनाने कि जो तैयारी यूपी सरकार ने किया है. इससे चौरी चौरा में रोजगार के कई आयाम को खोला है .अभी 4 फरवरी से शताब्दी वर्ष का आवाज होना है .उससे पहले ही कई युवाओं को रोजगार का मौका मिल चुका है .काफी संख्या में लोग अपना होल्डिंग लगवा रहे हैं .जिससे प्रिंटिंग प्रेस से जुड़े कारोबार में इजाफा हुआ है .वहीं दूसरी तरफ चौरी चौरा में लगातार लोगों की आवाजाही बढ़ी है. जिससे कई अन्य रोजगार उसे भी युवा जुड़ रहे हैं .पर्यटन विभाग चौरी चौरा में लगभग 3 करोड रुपए लगाकर शहीद स्मारक को सुदृढ़ कर रहा है.

आगरा वाराणसी के बाद अब भी गोरखपुर पर्यटकों का बनेगा केंद्र
पर्यटन विभाग के अधिकारियों की माने तो यूपी में सबसे अधिक पर्यटक आगरा और वाराणसी में आते हैं. लेकिन अब गोरखपुर भी पर्यटक को को अपनी तरफ आकर्षित करने से अछूता नहीं रहेगा अगर पिछले वर्षों के आंकड़ों को देखें तो गोरखपुर में पर्यटक को की संख्या लगभग 14 प्रतिशत बढ़ी है. चौरी चौरा शहीद स्मारक पूर्वांचल का प्रसिद्ध मंदिर तरकुलहा गोरखनाथ मंदिर सहित अन्य क्षेत्र में स्थित ऐतिहासिक स्थल को देखने के लिए अब पर्यटक जरूर आएंगे. जिसके लिए पर्यटन विभाग पूरे गोरखपुर में एक पर्याप्त बजट के अनुसार कार्य कर रहा है.