Ticker

6/recent/ticker-posts

Ad Code

Responsive Advertisement

*तुगलकी तानाशाह मुख्यमंत्री जनता का सामना करने के लिए तैयार रहें-चंद्रशेखर रावण*

*तुगलकी तानाशाह मुख्यमंत्री जनता का सामना करने के लिए तैयार रहें-चंद्रशेखर रावण*
*मुख्यमंत्री के गृह जनपद में घुसकर पीड़ितों से चंद्रशेखर रावण ने कहा राम राज्य के नाम पर दलितों का हो रहा कत्ल*
लोकेशन । भीम आर्मी चीफ के संस्थापक चंद्रशेखर रावण ने गोरखपुर पहुंच कर दो पीड़ित परिवारों से उनके घर जाकर मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने कुछ दिन पहले हुए गोला एडीओ पंचायत अनीस हत्याकांड के परिजनों से मुलाकात की। उसके बाद विश्वविद्यालय में परीक्षा देने गई युवती ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी देर रात उसके परिजनों से भी भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर रावण ने मुलाकात की । इस दौरान चंद्रशेखर रावण मुख्यमंत्री पर खूब बरसे कहां अगर मुख्यमंत्री के गृह जनपद का यह हाल है तो यूपी में लॉ ऑर्डर से क्या उम्मीद की जा सकती है।
चंद्रशेखर रावण ने कहा कि पहला मामला अनीश कनौजिया का है जिनकी हत्या हुई है उनके परिवार को न्याय नहीं मिला । उन्हें जान का खतरा बना हुआ है। उस केस में 17 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज हुआ था लेकिन 10 लोग ही गिरफ्तार हुए हैं। कल यहां के एसएसपी से जाकर मिलूंगा लेकिन आज मैं यह घर भी देख रहा हूं। पीड़ित परिवार को ही परेशान किया जा रहा है उस पर दबाव बनाया जा रहा है जिसके खिलाफ हत्या का मुकदमा हुआ है 302 का उनसे कोई पूछताछ नहीं हो रही है। पीड़ितों को ही परेशान किया जा रहा है वह बच्ची खुश थी आधे घंटे पहले पेपर देखें निकली और डिप्रेशन में कैसे हो सकती है। उसके सर पर, गले पर चोट के निशान है पैर जमीन पर थे। है उस विभाग में 13 साल पहले भी कुछ हुआ था।  हम जानना चाहते हैं कि मुख्यमंत्री जी उनको क्यों बचाने के लिए जोर लगा रहे हैं । लेकिन यहां लोकतंत्र है कानून व्यवस्था है लॉ एंड ऑर्डर है। दोबारा हाथरस एक हाथरस तो हो चुका है उसको जला दिया गया था। अब यह दूसरा हाथरस बना रहे हैं परिजनों को नहीं मिलने दिया गया बच्ची से, जबरदस्ती उसका अंतिम संस्कार करा दिया। मुख्यमंत्री अपने कार्यशैली पर अपने प्रशासन का दुरुपयोग कर रहे हैं जनता जवाब देगी । 
चंद्रशेखर ने कहा कि हाथरस कांड को 1 साल होने वाले हैं मुख्यमंत्री उनको न्याय नहीं दे पाए उनके सारे वादे झूठे हैं। और इस बच्चे की हत्या हुई है वह स्पष्ट दिखाई दे रहा है एक आम आदमी या कोई भी बता देगा इतनी ऊपर जाकर बच्ची कैसे फांसी लगा लेगी। तानाशाही गोरखपुर यहां बैठकर राम राज्य के नाम पर दलितों का कत्ल हो रहा है यह अन्याय अत्याचार बर्दाश्त नहीं करेगा। उन्होंने कहा कि गोरखपुर के गोला में हुए अनीश हत्याकांड में उसकी बहन दीप्ति उसको बहन स्वीकार कर के मैं वादा करके घर से आ रहा हूं कि आज तो मैं चुप हूं लेकिन मैं चुप नहीं रहूंगा । मैं चुप नहीं रहूंगा । मुख्यमंत्री में अगर हिम्मत है तो जनता का सामना करें जवाब दें।