Ticker

6/recent/ticker-posts

Ad Code

Responsive Advertisement

अश्लीलता पर हुआ बवाल; भारी पुलिस बल की सहायता से विश्वविद्यालय पर पाया गया काबू

अश्लीलता पर हुआ बवाल; भारी पुलिस बल की सहायता से विश्वविद्यालय पर पाया गया काबू

*मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय परिसर में आज दिनांक 19 मई 2022 को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद, गोरखपुर महानगर द्वारा पूर्व में विश्वविद्यालय में आयोजित कार्यक्रम में कथित रूप से अश्लीलता फ़ैलाने के विरुद्ध प्रदर्शन का आयोजन किया जाना था| जिसकी किसी तरह की कोई सुचना विश्वविद्यालय को नहीं दी गई थी इस पर इंजीनियरिंग कॉलेज ने अपने सफाई में दिए यह तर्क।* 

गोरखपुर । अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद, गोरखपुर महानगर द्वारा विश्वविद्यालय परिसर में पूर्व में आयोजित कार्यक्रम में कथित रूप से अश्लीलता फ़ैलाने के विरुद्ध प्रदर्शन का आयोजन किया गया था| परन्तु इस सम्बन्ध में विश्वविद्यालय प्रशासन को परिषद् की तरफ से कोई भी औपचारिक सूचना नहीं दी गयी थी| 
• विश्वविद्यालय प्रशासन पर यह आरोप लगाया गया था कि दिनांक 14 मई 2022 को विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान पोर्न स्टार को बुलाकर अश्लीलता फैलाई गयी थी| आयोजकों द्वारा अवगत कराया गया कि उक्त आरोप आधारहीन एवं भ्रामक है| उक्त कार्यक्रम के दौरान कई शिक्षक सपरिवार उपस्थित थे| पूरे कार्यक्रम की विडियो रिकॉर्डिंग भी विश्वविद्यालय के पास उपलब्ध है जिससे इस तथ्य की पुष्टि की जा सकती है कि कार्यक्रम के दौरान कोई अश्लीलता/ अभद्रता नहीं हुई थी| उक्त आरोप से विश्वविद्यालय के संज्ञान में अनौपचारिक रूप से लाये जाने के उपरांत विश्वविद्यालय द्वारा उक्त आरोप की जांच के लिए चार सदस्यीय समिति का गठन किया जा चुका था| समिति को यह आदेश दिए गए थे कि समुचित जांच के उपरांत यह स्पष्ट करें कि उक्त कार्यक्रम के दौरान किसी तरह की अभद्रता हुई थी या नहीं| ऐसे में किसी तरह के प्रदर्शन का औचित्य नहीं था| 
• प्रदर्शन एवं ज्ञापन सौंपने हेतु विद्यार्थी परिषद् का एक प्रतिनिधिमंडल मा. कुलपति महोदय से मिलने हेतु दिनांक 19 मई 2022 को परिसर में आया था| कुलपति कक्ष में प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात के दौरान विश्वविद्यालय छात्र क्रिया कलाप परिषद् के अध्यक्ष, अन्य पदाधिकारी, एवं छात्र पदाधिकारी भी उपस्थित थे|
• मुलाकात के दौरान विद्यार्थी परिषद् के प्रतिनिधियों एवं विश्वविद्यालय छात्र क्रिया कलाप परिषद् के छात्र पदाधिकारियों, जिनमें छात्राएं भी सम्मिलित थीं, के बीच तीखी नोकझोंक, भद्दे आरोप लगाये जाने के दृष्टिगत मा. कुलपति महोदय द्वारा विश्वविद्यालय के छात्रों को कुलपति कक्ष से बाहर जाने के आदेश दिए गए|
• कुलपति कक्ष में छात्राओं से अभद्र व्यवहार की जानकारी होने पर विश्वविद्यालय के छात्र आक्रोशित हो गए एवं प्रशासनिक भवन पर एकत्रित होने लगे| इसी आक्रोश के दौरान, विद्यार्थी परिषद् के एक पदाधिकारी जो प्रशासनिक भवन के पोर्च में मौजूद थे, से छात्रों की नोकझोंक होने पर उनके द्वारा अभद्र व्यवहार किया गया जिससे छात्र और उग्र हो गए| इस बीच परिषद् के पदाधिकारियों द्वारा विश्वविद्यालय के शिक्षकों, एवं कुलपति को अपशब्द कहने पर बात बढ़ गयी, जिसमें कतिपय छात्रों एवं परिषद् के पदाधिकारियों के बीच हाथा पाई की नौबत आ गयी| तत्काल विश्वविद्यालय सुरक्षा कर्मियों एवं शिक्षकों की मदद से छात्रों को समझा बुझा कर शांत कराकर अपने अपने छात्रावासों/ कक्षाओं तक वापस भेजा गया|
• घटना के दौरान विश्वविद्यालय के छात्र शुभम चौरसिया को गंभीर चोट आयी, उन्हें तत्काल उपचार हेतु अस्पताल भेजा गया| हाथा पाई में परिषद् के पदाधिकारी को भी चोट आई जिन्हें तत्काल चिकित्सकीय मदद उपलब्ध करायी गयी|