Ticker

6/recent/ticker-posts

Ad Code

Responsive Advertisement

राष्ट्रीय एकता दिवस’’ के तहत पूर प्रदेश में केंद्रीय संचार ब्यूरो चला रहा है अभियान

*‘’राष्ट्रीय एकता दिवस’’ के तहत पूर प्रदेश में केंद्रीय संचार ब्यूरो चला रहा है अभियान*
*राष्ट्रीय एकता दिवस पर बीकेटी इण्टर कालेज में आयोजित किया गया है चित्र प्रदर्शनी*
*“राष्ट्रीय एकता दिवस में सरदार वल्लभ भाई पटेल के जीवन संघर्ष से सीख लेकर देश को मजबूत बनाना होगा”: डॉ रश्मि सिंह*
*सरदार पटेल के सपनों को पूरा करने और देश को एकता के सूत्र में बांधने के लिए आपसी भाई चारा स्थापित करना होगा-महेश चंद्र देवा*

उत्तर प्रदेश। राष्ट्रीय एकता दिवस पर केंद्रीय संचार ब्यूरो,लखनऊ द्वारा सरदार पटेल गुरुकुल एकेडमी, बख्शी का तालाब, लखनऊ में जन जागरूकता अभियान की शुरुआत किया गया। अभियान की शुरूआत मुख्य अतिथि  डॉ रश्मि सिंह, प्रबंधक, सरदार पटेल गुरुकुल एकेडमी ने प्रचार रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना की। इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि महेश चंद्र देवा, वरिष्ठ समाजसेवी, लखनऊ, रूपल जैन, प्रधानाचार्य, सरदार पटेल गुरुकुल एकेडमी, जय सिंह, क्षेत्रीय प्रचार अधिकारी व स्कूल के शिक्षक व गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।
 
विशेष जनजागरुकता अभियान के कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉ रश्मि सिंह ने उपस्थित जन समूह व छात्र छात्राओं को संबोधित हुए कहा कि भारत मे बहुत सारे महापुरुष पैदा हुए है, जो देश की एकता अखंडता को बनाये रखने के लिए अपना सब कुछ न्योछावर कर दिया जिसमें से सरदार पटेल एक थे। सरदार पटेल के जीवन संघर्ष से सीखकर अपने जीवन मे उतारना होगा। 
विशिष्ट अतिथि महेश चंद्र देवा ने अपने सम्बोधन में कहा कि सरदार बल्लभ भाई पटेल देश की एकता के लिए जीवन भर लगे रहे। हम सभी को भी देश की एकता व अखंडता को बनाये रखने के लिए आपसी भाई चारा स्थापित करना होगा।
इस अवसर पर जय सिंह, क्षेत्रीय प्रचार अधिकारी कार्यक्रम का संचालन करते हुए  विद्यार्थियों के बीच प्रश्रोत्तरी प्रतियोगिता का आयोजन किया और विजयी प्रतिभागियों को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया।
श्री जय सिंह ने बताया कि राष्ट्रीय एकता दिवस पर दिनाँक- 31 अक्टूबर 2022 को बख्शी का तालाब इण्टर कालेज, लखनऊ में सरदार वल्लभ भाई पटेल के जीवन पर आधारित चित्र प्रदर्शनी का उद्घाटन श्री कौशल किशोर , आवासन एवं शहरी कार्य राज्य मंत्री, भारत सरकार द्वारा उद्घाटन दोपहर 01:00 बजे किया जाएगा।
यह चित्र प्रदर्शनी दिनाँक- 2 नवंबर 2022 तक आम जन के लिए सुबह 10 बजे से सायं 6 बजे तक निःशुल्क खुली रहेगी। इस चित्र प्रदर्शनी में प्रतिदिन प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता, संघोष्ठी, सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे।

इस मौके पर रामफेर दिवाकर, लक्ष्मण शर्मा, राम कुमार सहित सैकड़ों गड़मान्य व्यक्ति व विद्यार्थी मौजूद रहे।

Post a Comment

0 Comments