Ticker

6/recent/ticker-posts

Ad Code

Responsive Advertisement

बड़ी बिडंबना है : बच्चों के आय, जाति व निवास प्रमाण पत्र पर नहीं बन सकता मां-पिता का प्रमाण पत्र - गोरखपुर सदर

बच्चों के आय, जाति व निवास प्रमाण पत्र पर नहीं बन सकता मां-पिता का प्रमाण पत्र




गोरखपुर जनपद के डिभिया महादेव झारखण्डी टुकड़ा न0 एक के निवासी पंचम गौड़ ने अपना आय जाति निवास बनने के लिए 06/12/2022 को आवेदन किया था। परंतु लेखपाल द्वारा विभिन्न प्रकार की अड़चन उत्पन्न किया जा रहा है। 

हालांकि उनके बच्चों का आय, जाति व निवास प्रमाण पत्र सब कुछ उन्हीं (पंचम गौड) के नाम पर बना है । 

इस संबंध में जब रिपोर्ट ने लेखपाल से बात करने की कोशिश की तो लेखपाल रजत वर्मा ने उन्हें कानूनी दांव का हवाला देकर अपना वर्चस्व बनाने कि कोशिश किया। 

लेखपाल द्वारा कहा गया कि उनको फसल कि रशीद, और अपने नाम का हाउस टैक्स लगाना होगा तभी यह आय, जाति व निवास प्रमाण बनवा  आएंगे। 

जबकि पंचांग गौड का यह आरोप है कि वर्तमान पार्षद के कहने पर लेखपाल साहब हमारा रिपोर्ट नहीं लगा रहे हैं। जबकि मैं यहां अपनी पत्नी के घर (ससुरार) मैं रहता हूं। मेरे सास - ससुर के जमीन जायदाद में मेरा भी हिस्सा है। आपको यह भी बताते चलें की पंचम गौड ने बताया कि मेरे पिता व भाई और मेरी बच्ची का आय, जाति व निवास सब कुछ यहीं का बना है फिर भी इस तरह से आपत्ति जताई जा रही है। 

गौरतलब है कि लोखपाल रजत वर्मा व उनके मुंशी, धर्मपाल , विवेक व अन्य साथियों के संबंध में पहले भी धन उगाई के कई मामले सामने आए बावजूद कोई भी विधिक कार्यवाही कभी भी नहीं किया गया है। इस संबंध में एसडीएम नेहा बंधु से बातचीत चल रही है । शासकीय वर्ज़न कल प्रकाशित किया जाएगा। 

Post a Comment

0 Comments